World News Today

India news, world news, sports news, entertainment news,

Your Son Has Killed Jews…, Hamas Terrorist Calls His Father, Israel Releases Audio – आपके बेटे ने यहूदियों को मारा है…., हमास के आतंकी ने पिता को किया फोन, इजरायल ने जारी किया ऑडियो

नई दिल्ली:

इजरायल की डिफेंस फोर्स यानी IDF ने हमास के साथ जारी युद्ध के बीच एक ऑडियो जारी किया है. ये ऑडियो हमास के ही एक आतंकी का बताया जा रहा है. इस ऑडियो में आतंकी सात अक्टूबर को इजरायल की सीमा में घुसने के बाद आम लोगों को मारने की बात को मान रहा है. वह अपने पिता को फोन कॉल पर बता रहा है कि मैंने यहूदियों को मार दिया है. इस ऑडियो में वो आतंकी आगे कहता है कि देखो मैंने कितने लोगों को अपने हाथों से मार डाला! आपके पुत्र ने यहूदियों को मार डाला है. पापा आपने सिर को फर्क से ऊंचा कर सकते हो. इसके बाद वो आतंकी अपनी मां को फोन पर बुलाने को कहता है. 

यह भी पढ़ें

“मैंने इनको मार दिया है”

इसके बाद आतंकी अपने अभिभावक से व्हाट्सएप चेक करने को कहता है. वो कहता है कि देखो मैंने तुम्हें इनकी हत्या का सबूत भेजा है. एक बार व्हाट्सएप खोलकर देखो तो. मां तुम्हारा बेटा एक हिरो है. इसके बाद उसकी मां कहती है कि तुम महमूद हो ना. तुम मुझसे वादा करो कि तुम वापस आओगे.

 इस सप्ताह की शुरुआत में, इज़राइल ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें हमास के कार्यकर्ताओं को इज़राइल में नागरिकों की हत्या करने की बात कबूल करते हुए दिखाया गया था.

“इजरायली को बंधक बनाने पर इनाम देने का वादा “

वीडियो में, लोगों का दावा है कि उन्हें इजरायली नागरिकों को बंधक बनाने के लिए इनाम देने का वादा किया गया था. हमास के एक सदस्य को कथित तौर पर वीडियो में यह कहते हुए सुना जा सकता है, “जो कोई बंधक का अपहरण करेगा और उन्हें गाजा लाएगा, उसे 10,000 डॉलर का इनाम और एक अपार्टमेंट मिलेगा.” उन्हें यह कहते हुए भी सुना जा सकता है कि उनके आकाओं ने उन्हें विशेष रूप से बुजुर्गों और बच्चों का अपहरण करने का निर्देश दिया था. 

गौरतलब है कि हमास ने सोमवार को दो इजरायली (Israel Hamas War) महिला बंधकों को रिहा कर दिया था. आतंकियों के चंगुल से रिहा हुई 85 साल की इजरायली बुजुर्ग महिला ने गाजा में कैद के दौरान हुए अच्छे औक बुरे अनुभवों को साझा किया. योचेवेद लिफ्शिट्ज़ ने हमास के हमले रोकने में नाकाम रही इजरायली सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उनको गाजा में “नरक से गुजरना पड़ा.” तेल अवीव अस्पताल में व्हीलचेयर पर बैठी लिफ्शिट्ज़ ने मीडिया के सामने गाजा के अनुभव शेयर किए. उन्होंने बताया कि किस तरह से किबुत्ज़ समुदाय पर हमला करने वाले फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने उन्हें मोटरसाइकिल से फेंका और पीटा था.

हमास आतंकियों ने कहां रखा और क्या खिलाया?

हमास आतंकी उनको गाजा पट्टी में ले गए, उनको जमीनी सुरंगों में “मकड़ी के जाल” से होकर गुजरना पड़ा. जिस जगह पर उनको रखा गया था वहां पर उनको डॉक्टरी देखभाल के साथ ही खाने के लिए रोटी, क्रीम पनीर और खीरा दिया गया था. सोमवार रात को लिफ्शिट्ज़ और 79 साल की नुरिट कूपर को रिहा कर दिया. दो अमेरिकी महिलाओं समेत हमास अब तक चार बंधकों को रिहा कर चुका है. अब भी करीब 220 लोग हमास की कैद में हैं. लिफ्शिट्ज़ को तो हमास ने रिहा कर दिया लेकिन उनके पति अभी भी गाजा में ही बंधक हैं. रिहाई के बाद उनकी गार्ड के साथ हाथ मिलाते हुए एक फोटो सामने आई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *