World News Today

India news, world news, sports news, entertainment news,

We Were Sleeping When We Heard The Cries Tamil Nadu Madurai Train Fire Survivor – हम सो रहे थे, अचानक चीख-पुकार मचने लगी और फिर…, मदुरै ट्रेन हादसे के घायलों ने सुनाई आपबीती

हादसे में कोच में सवार 10 यात्रियों की मौत हो गई. 20 अन्य घायल हैं.

नई दिल्ली:

तमिलनाडु के मदुरै रेलवे स्टेशन पर एक ट्रेन के खड़े डिब्बे में शनिवार 26 अगस्त की सुबह आग (Madurai Train Fire) लगने से 10 यात्रियों की मौत हो गई. जिस डिब्बे में आग लगी, वह एक प्राइवेट पार्टी कोच था. उसमें सवार यात्री उत्तर प्रदेश के लखनऊ से मदुरै पहुंचे थे. इस हादसे में बचने वाले यात्रियों ने उस खौफनाक मंजर के बारे में बताया है.

यह भी पढ़ें


उत्तर प्रदेश की रहने वाली अलका प्रजापति घटना के समय डिब्बे में सो रही थीं. तभी आग-आग की आवाजें आने लगीं. आग का पता लगते ही अलका दरवाजे की तरफ भागी, लेकिन ट्रेन का दरवाजा बंद था. तभी किसी ने ताला तोड़कर इन यात्रियों को बाहर निकाला. ये आग शनिवार सुबह 5.15 बजे लगी और इसपर सुबह 7.15 बजे तक काबू पाया गया. 

“ठीक से सांस नहीं ले पा रही थी”

अलका प्रजापति ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया, “हम सो रहे थे. जैसे ही हमने चीखें सुनीं तो बाहर भागने की कोशिश की. दरवाजा बंद था. मैं ठीक से सांस नहीं ले पा रही थी. अंदर बस भगवान का नाम ले रहे थे. उसी वक्त किसी ने ताला तोड़ दिया और हम बाहर आए. 15-20 मिनट बाद रेलवे कर्मचारी वहां पहुंचे और आग बुझाने की कोशिश की गई.” 

“चीख-पुकार से खुली नींद”

एक अन्य यात्री विनोद कुमार ने बताया, “आग लगने के बाद अचानक चीख-पुकार से उनकी नींद खुल गई. फिर वो अपनी जान बचाने के लिए भागे. कुछ अंदर फंस गए. स्लीपर कोच होने के कारण वे जल्दी से नीचे नहीं उतर सके. जीवित बचे कुछ लोगों ने बताया कि वे रामेश्वरम जा रहे थे.” 

घटना में घायल हुईं एक महिला रेखा ने बताया, “मैं बीच वाली सीट पर लेटी थी. आग लगने की आवाज सुनी. हम सभी तुरंत भागे और खिड़की के पास पहुंचे, लेकिन वह बंद थी. फिर हमने किसी तरह उसे खोला. जो पीछे थे वे भाग गए और जो आगे बैठे थे वे फंस गए.” 

रेलवे ने क्या कहा?

इस बीच साउथ रेलवे ने कोच में अवैध रूप से ले जाए गए गैस सिलेंडर को हादसे की वजह बताया है. साउथ रेलवे  के मुताबिक, मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की गई है. ये एक प्राइवेट पार्टी कोच था, जिसे शुक्रवार को नागरकोविल जंक्शन पर ट्रेन संख्या 16730 (पुनालुर-मदुरै एक्सप्रेस) में जोड़ा गया था.

9 यात्रियों की मौत और 20 घायल

अधिकारियों ने बताया कि हादसे में कोर्च में सवार 10 यात्रियों की मौत हो गई. 20 अन्य घायल हैं. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कोच में सवार यात्रियों ने 17 अगस्त को लखनऊ से यात्रा शुरू की थी. उनका रविवार (27 अगस्त को) चेन्नई जाने का कार्यक्रम था. चेन्नई से वे लखनऊ लौटने वाले थे.

ये भी पढ़ें:-

ऑफिस 5 मिनट जल्दी पहुंचने के चक्कर में लड़की ने लगा दी जान की बाजी, देखें VIDEO

तमिलनाडु: यात्री डिब्बे में अवैध रूप से ले जा रहे थे गैस सिलेंडर, ट्रेन में लगी आग, 10 लोगों की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *