World News Today

India news, world news, sports news, entertainment news,

Encounter Between Security Personnel And Naxalites In Sukma Chhattisgarh 13 Soldiers Injured – छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षाकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 4 जवान घायल

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षाकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 4 जवान घायल

मुठभेड़ के दौरान एक जवान को गोली लगी है और तीन मामूली रूप से घायल हो गए.

नई दिल्‍ली :

छत्तीसगढ़ में बीजापुर-सुकमा सीमा पर सुरक्षाकर्मियों और नक्‍सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है. मुठभेड़ के दौरान कुल चार जवान घायल हुए हैं. पुलिस के मुताबिक, लोगों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने और नक्‍सली गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सुकमा के टेकलगुडेम गांव में आज ही एक सुरक्षा कैंप स्थापित किया गया था. कैंप स्थापित करने के बाद डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड, कोबरा बटालियन और स्पेशल टास्क फोर्स इलाके में गश्त कर रहे थे. उसी दौरान नक्‍सलियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसका सुरक्षाबलों ने मुंहतोड़ जवाब दिया. 

यह भी पढ़ें

सुरक्षाबलों के बढ़ते दबाव को देखकर माओवादी जंगल की आड़ लेकर भाग गए. मुठभेड़ के दौरान एक जवान को गोली लगी है और तीन जवान मामूली रूप से घायल हुए हैं. पुलिस ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है कि घायल जवानों की स्थिति खतरे से बाहर है और इलाज के लिए उन्‍हें रायपुर भेजा जा रहा है. 

टेकलगुडे़म में शहीद हुए थे 23 जवान 

उल्लेखनीय है कि साल 2021 में टेकलगुड़ेम के जंगल में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 23 जवान शहीद हो गए थे.  

बस्‍तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक सुन्दरराज पी. ने बताया कि क्षेत्र की जनता को नक्सल समस्या से मुक्ति दिलाने के लिए बस्तर पुलिस और तैनात सुरक्षा बल संकल्पित है. उन्‍होंने कहा कि वर्ष 2021 में टेकलगुड़ेम मुठभेड़ में भारी क्षति पहुंचने के बावजूद जनहित में पुनः हम मजबूती से टेकलगुड़ेम गांव में कैम्प स्थापित कर क्षेत्र की शांति, सुरक्षा एवं विकास हेतु समर्पित होकर कार्य करेंगे.

नक्‍सलियों ने तीन तरफ से किया था हमला 

अप्रैल 2021 में बीजापुर जिले में करीब 2,000 सुरक्षाकर्मी एक नक्‍सली नेता की तलाश में थे, जब उनमें से कुछ पर हमला किया गया. अधिकारियों ने कहा था कि करीब 400 से 750 प्रशिक्षित नक्‍सलियों ने जवानों को तीन तरफ से घेरकर उन पर कई घंटों तक मशीनगन से गोलियां बरसाई और गोलाबारी की. साथ ही उन्‍होंने अपनी जान गंवाने वाले सुरक्षाकर्मियों के हथियार, गोला-बारूद, वर्दी और जूते लूट लिए थे. सीआरपीएफ के अनुसार, मुठभेड़ में करीब 28-30 नक्‍सली भी मारे गए थे. 

सुकमा राज्य के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र के सात जिलों में से एक है. 

ये भी पढ़ें :

* “1 लाख का इनामी, 35 आपराधिक मामले” : UP एसटीएफ ने गैंगस्टर को मुठभेड़ में किया ढेर

* छत्तीसगढ़: नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के दौरान ‘क्रॉस फायरिंग’ में बच्ची की मौत, मां घायल

* “हमें न्याय चाहिए…”: अपराधियों के साथ मुठभेड़ में मारे गए यूपी के पुलिसकर्मी के परिवार ने की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *